कैसे चलती है एक आम आदमी की जिन्दगी आओ सुनते हैं एक आम आदमी कि जुबानी।



मेरा नाम जितेंदर शर्मा मैं कोई बहुत प्रसिद्ध आदमी नहीं हूँ की आप मेरी बातों को माने मैं अपना निजी व्यवसाय इंटरनेट मार्केटिंग का काम करता हूँ। परन्तु मैं जिन्दगी की हकीकत से अच्छी तरह बाक़िफ़ हूँ और मैं अपनी यह बात हर इन्सान तक पहुँचाने का इछुक भी हूँ। हर इन्सान का अपना एक जिन्दगी जीने का नजरिया होता है। कुछ लोग बचपन से ही अपनी जिन्दगी का रास्ता तय कर लेते हैं अपने आस पास के माहौल को देख कर और कुछ अपने इस आस पास के माहौल से भी कुछ नहीं सीख पाते।



कुछ लोग बड़े बड़े लोगों को जब अपनी टी वी स्क्रीन पर देखते हैं तो सोचते हैं की मैं भी सचिन तेंदुलकर जैसा क्रिकेट खेलने वाला बनूँगा, मैं भी अमिताब बचन की तरह हीरो बनूँगा, मैं भी सलमान खान की तरह हीरो बनूँगा। जरा सोचे ऐसे हो सकता है क्या जी हाँ यह सम्भब तो है लेकिन हुनर की जरुरत है और जज्बे की तभी आप लोग इनके जैसा बन सकते हैं। अगर आप खाली सोचते ही रहेंगे तो कुछ नहीं होने वाला। सोच बड़ी है, सपने बड़े हैं, अच्छा घर चाहिए, महँगी कार चाहिए, बैंक बैलेंस चाहिए तो मेहनत भी उसी तरह करनी पड़ेगी। नहीं तो ये वो बात हो जाएगी “मुंगेरी लाल के हसीन सपने”।

74.5Overall Score
असल जिन्दगी सही माईनो में बहुत मुश्किल भरी होती है।

असल जिन्दगी सही माईनो में बहुत मुश्किल भरी होती है। कोई इसको समझ लेते हैं परन्तु कुछ लोग सारी जिन्दगी समझ नहीं पाते। आप कितना जानते हैं अपना कमेंट जरूर दें।

  • लोगों की क्या रॉय है।
    67
  • इस वीडियो को सुनकर आपके विचार।
    82

Comments are closed.